Jaise Suraj Ki Garmi Se Jalte Hue Tan Ko – Harmonium Notes

-
Keyboard Notes Keys
-
-
Piano Notes Keys
-

Harmonium Notes for Jaise Suraj Ki Garmi Se (सारेग मपधनि – रेग मधनि)

For Piano Notes (Western – CDE FGAB – C#D# F#G#A#)
DE        F     DE        F
Suraj   ki     garmi    se
For Keyboard Notes (English – srg mpdn)
rg        m     rg        m
Suraj   ki     garmi    se


रे *नि
जैसे

रेग      म    रेग       म
सूरज   की    गर्मी     से

रेग       मरे     ग     म
जलते    हुए     तन   को

रे        गम     रेग      म
मिल   जाये    तरुवर   की

रे ध~
छाया


पध     नि     प        धनि
ऐसा    ही     सुख      मेरे

प      ध     निप     ध     नि
मन   को    मिला    है,     मैं

प      ध      निप       धनि
जब    से     शरण     तेरी

ग* ग*~       निनि        रे*
आया,          मेरे       राम


सा* निधपमगरे


Repeat:
सूरज की    गर्मी      से


रेग       म     रेग      म
सूरज    की    गर्मी     से

रेग       मरे     ग        म
जलते    हुए     तन     को

रे       गम     रेग      म
मिल  जाये    तरुवर   की

रे ध रेरे~
छाया


पप~        पम        रेरे
भटका      हुआ     मेरा

प        प~        मरे
मन     था       कोई

प      प~    पम    म    निधध
मिल  ना      रहा   था    सहारा

पप~     प     मरे
लहरों    से    लडती
Or
पप~        प    मम

रेप      पप     म      रेरे
हुई     नाव    को     जैसे,

ध     ध     निसा*   सा*    रे* ग* *
मिल  ना    रहा       हो      किनारा

प*       म*    रे* रे*   सा*     ग* रे* रे*
मिल    ना     रहा      हो       किनारा


सा*निधपमगरे


रे         ग   म रेग
उस     लड  खडाती

मरे     ग~ म       रेग
हुई     नाव         को जो

मरेग          मरेग        मरेध
किसी_ने     किनारा     दिखाया

पध      नि     प        धनि
ऐसा     ही      सुख     मेरे

प       ध     निप      ध      नि
मन     को    मिला    है,      मैं

प      ध     निप       धनि
जब    से    शरण     तेरी

ग* ग*~       निनि        रे*
आया,           मेरे       राम


रेग       म     रेग      म
सूरज    की    गर्मी     से

रेग       मरे     ग        म
जलते    हुए     तन     को

रे       गम     रेग      म
मिल  जाये    तरुवर   की

रे ध रेरे~
छाया


Will be Updated:
शीतल बने आग चन्दन के जैसी
राघव कृपा हो जो तेरी
उजयाली पूनम की हो जाये राते
जो थी अमावस अँधेरी

युग युग से प्यासी मुरुभूमि ने
जैसे सावन का संदेस पाया
ऐसा ही सुख मेरे मन को मिला है,
मैं जब से शरण तेरी आया, मेरे राम

सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को
मिल जाये तरुवर की छाया


For Piano Notes (Western – CDE FGAB – C#D# F#G#A#)
DE        F     DE        F
Suraj   ki     garmi    se
For Lyrics of Jaise Suraj Ki Garmi Se – Hindi Lyrics
_

Devotional and Hindi Bollywood Songs Casio Notes

Harmonium Notes for Bhajan - List
Keyboard Notes for Hindi Songs - List

_

Harmonium Notes for Bhajan


_

Hindi Song Sargam For Harmonium


_

For Keyboard Notes (English – srg mpdn)
rg        m     rg        m
Suraj   ki     garmi    se

_

Song Information of Jaise Suraj Ki Garmi Se Jalte Hue Tan Ko

Song:
Suraj Ki Garmi Se Jalte Hue Tan Ko
Movie:
Parinay (1974)
Singer(s):
Sharma Bandhu
Music Director:
Jaidev
Lyrics:
Ramanand Sharma